Thop Tv का मालिक हुआ गिरफ्तार, यूजर्स के ऊपर भी है खतरा

Join Our Channel

Netflix, Amazon Prime, Alt balaji जैसी कंपनियों ने कुछ दिनों साइबर सेल में कंप्लेंट किया की एक एप जिसका नाम Thop Tv है वो गलत तरीके से यानी पायरेसी से उनका सारा कंटेंट फ्री में स्ट्रीम किया जा रहा है। महाराष्ट्र साइबर सेल पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है जो को IT इंजीनियर है और फाउंडर ऑफ thop Tv भी था। इसका नाम सतीश वेंकटेश्वरलू है।

अपने फोटो को व्हाट्सएप स्टिकर में कैसे बदले: जाने पूरा स्टेप्स

सतीश ने एक ऐसा एप बनाया था जिसमे Netflix, Amazon Prime, Hotstar, Alt balaji और भी बहुत सारी OTT platform के सारे वेब सीरीज, मूवी और टीवी शो दिखाई जाती थी वो भी गैरकानूनी तरीके से इसी वजह से सतीश को पुलिस द्वारा पकड़ा गया।

भारतीय ने बनाया Facebook से बेहतर एप: जाने कौनसा एप

सोमवार को हैदराबाद से सतीश वेंकटेश्वरलू को मुंबई की की पुलिस टीम ने गिरफ्तार करके 7 दिनों के लिए कस्टडी में ले रखा है। Viacom 18 Media और कुछ अन्य बड़ी ब्रॉडकास्टर्स कंपनियों ने महाराष्ट्र साइबर सेल में शिकायत की थी कि Thop TV नाम का ऐप उनके कंटेंट को बिना उनकी इजाजत लिए बगैर अपने प्लेटफॉर्म पर स्ट्रीम कर रहा है। शिकायतकर्ता का कहना था कि इस ऐप की इस गैरकानूनी वजह से उनको बहुत पैसे का नुकसान उठाना पड़ा है

भारत में लॉन्च होंगे इस महीने ये बंपर फोन: जाने कौन कौन से?

इस हरकत के बाद महाराष्ट्र साइबर सेल अपनी कार्यवाई सुरु कर दी है और ऐप निर्माता और इस एप के कारबार को चलाने वाले 28 वर्षीय इंजीनियर Satish Venkateshwarlu को हैदराबाद से गिरफ्तार किया।सतीश के ऊपर IT Act, 2000 के Sections 43, 66 और 66B के तहत मामला दर्ज किया गया है और साथ ही Copyright Act के Section 63 और भारतीय दंड संहिता (IPC) के Section 420 और Section 34 की धाराएं भी लगाई गई है।

thop Tv लगभग 2 साल पुराना एप है और भारी मात्रा में इसका प्रयोग किया जाता था सारी बड़ी कंपनियों को काफी नुकसान हुआ। हालाकि इस एप का सर्वर डाउन कर दिया गया है और अगर आप कही से जुगाड़ लगा कर इस एप को इस्तेमाल कर रहे हैं तो अपनी आदत बदले और पायरेसी को कम करे।

Nitish Singh

मुझे इंटरनेट टेक्नोलॉजी के बारे में जानने और इसे लोगो के साथ शेयर करना अच्छा लगता है, मैं एक प्रोफेशनल Full Time ब्लॉगर हु। इसके अलावा मुझे अच्छी किताबें पढ़ने और लोगों को ऑब्ज़र्व करना भी अच्छा लगता है।

Leave a Reply